Wednesday, February 10, 2010

रेडियो बनेगा किसानों का साथी

जिलों में स्थापित होगें कम्युनिटी रेडियो स्टेशन

भीलवाड़ा का प्रस्ताव मंजूर

चूरू, 1 जनवरी। खेती से जुड़ी तमाम जानकारियों के लिए कृषि विभाग के साथ अब रेडियो भी किसानों का मददगार बनेगा। किसानों को घर बैठे खेती की जानकारी उपलब्ध कराने की एक अनूठी योजना पर काम शुरू हो गया है। सब कुछ योजनानुसार हुआ तो जल्द ही प्रदेश के सभी किसान कम्यूनिटी रेडियो के माध्यम से अपने जिले की खेती की समस्त जानकारियां प्राप्त कर सकेंगे। एग्रीकल्चर टेक्नोलॉजी मैनेजमेंट एजेंसी (आत्मा) की कैफेटेरिया गतिविधि डी-2 के तहत प्रदेश के 32 जिलों में कम्यूनिटी रेडियो स्टेशन स्थापित किया जाएगा।आत्मा की नोडल एजेंसी ने परियोजना निदेशकों को कम्यूनिटी रेडियो स्टेशन स्थापना संबंधी दिशा-निर्देश भेजकर प्रस्ताव मांगे है। नोडल एजेंसी के अधिकारिक सूत्रों के अनुसार प्रदेश के विभिन्न जिलों से कम्यूनिटी रेडियो स्टेशन स्थापना के लिए प्रस्ताव आने शुरू हो गए हैं। अधिकांश रेडियो स्टेशन कृषि विज्ञान केन्द्रों में स्थापित किए जाएंगे। भीलवाड़ा के कृषि विज्ञान केन्द्र में कम्यूनिटी रेडियो स्थापित करने के प्रस्ताव को भारत सरकार की मंजूरी मिल गई है। करौली जिले का प्रस्ताव भी भारत सरकार का भेजा जा चुका है। प्रदेश के शेष जिलों के प्रस्ताव प्रारम्भिक चरण में हैं।

सीमित होगा दायरा

कम्यूनिटी रेडियो की फ्रिक्वेंसी का दायरा जिला स्तर तक ही सीमित होगा। रेडियो स्थापना के प्रस्ताव में शामिल स्थानों में से जिले के बीचों बीच स्थित स्थान को प्राथमिकता दी जा रही है। किसान अपने जिले में कहीं पर भी रेडियो के माध्यम से कृषि की जानकारी प्राप्त कर सकेंगे।


ये जानकारी होंगी हासिल

कम्यूनिटी रेडियो के माध्यम से किसानों को फसलों की बुवाई से लेकर कटाई और मण्डियों में बेचने तक की तमाम जानकारी हासिल हो सकेंगी। इसके लिए कृषि विशेषज्ञों एवं प्रगतिशील किसानों को समय-समय पर रेडियो स्टेशन पर आमंत्रित किया जाएगा।फसलों की पैदावार बढ़ाने, समय के हिसाब फसलों की देखभाल, फसलों के कीट प्रबंधन विशेष जोर दिया जाएगा। इनके अलावा किसानों को घर बैठे-बैठे जिले के प्रगतिशील किसानों की सफलता की कहानी खुद उन्हीं की जुबानी सुनने को मिलेगी।


----

भीलवाड़ा के केवीके में कम्यूनिटी रेडियो स्टेशन स्थापित करने के प्रस्ताव को मंजूरी मिल चुकी है। करौली का प्रस्ताव सरकार को भेजा जा चुका है। अन्य जिलों से भी प्रस्ताव मांगे हैं।

-केपी गुप्ता, नोडल प्रभारी, आत्मा सेल, जयपुर-

जिला मुख्यालय पर कम्यूनिटी रेडियो स्टेशन की स्थापना पर विचार किया जा रहा है। जनवरी में परियोजना के बोर्ड की जगह में स्थान तय प्रस्ताव नोडल एजेंसी को भेजेंगे।

-डा. हरजीराम बारुपाल, परियोजना निदेशक आत्मा, चूरूआगे पढ़ें...

No comments:

Post a Comment

हिसाब-किताब

विजेट आपके ब्लॉग पर

ब्लॉग पर अपनी भाषा चुनें